Header Ads

My School Essay In Hindi-मेरी स्कूल निबंध हिंदी में

My School Essay In Hindi-मेरी स्कूल निबंध हिंदी में 


My School Essay In Hindi-मेरी स्कूल निबंध हिंदी में , Meri Vidhyalay Or Meri School जैसे सभी निबंधों में आप यह Essay use कर सकते है। 

hindi essay




प्रस्तावना :            मेरा स्कूल बहुत अच्छा है।  मेरे स्कूल की ईमारत तीन मंजिल की है और वो पिलर रंग की है।  मुझे मेरे स्कूल में उचित स्कूल ड्रेस पहनना पसंद है। मेरे स्कूल की टीचर बहुत ही अच्छी है और दयालु है वो हमे बहोत ही अच्छे से समझती है और वह हमें अच्छी तरह सभी चीजों का अनुशासन का अनुसरण  करना सिखाती है।  मेरा स्कूल बहोत ही अच्छी और शानदार जगह पर स्थित है और वो शहर के सभी शोर सराबेसे दूर है।  मेरे  शाला  के बहार  एक छोटा सा बगीचा है।  और वे बहुत ही सुन्दर है जहा पर ढेर सारे  पेड़ पौधे और फूल है। वहा पर बहोत सुन्दर फुव्वारे भी है। 




मेरे स्कूल में सुविधाए :

हमारे स्कूल में बहोत सारी सुविधाए है। जैसे की एक बड़ा सा पुस्तकालय , दो विज्ञानं लेब ,एक बड़ा सुन्दर मैदान ,एक स्टेज और एक स्टेशनरी की दुकान है।  मेरे स्कूल में सुन्दर पानी की  परब है जो बहॉट ही अच्छी है हमारे स्कूल में कक्षा एक से लेकर बारह कक्षा तक छात्राएँ पठते है। हमारे स्कूल में महिलाए और पुरुष को मिलाकर  ४० शिक्षक है और वे बहोत ही कबीले तारीफ है।  हमारे स्कूल में तीन कर्मचारी ही जो प्यून का काम 

करते है।  हमारे स्कूल में 15 सहायक कर्मचारी है जो बहोत ही कबिले तारीफ है। एक प्रधनचार्य  और  पांच गेट कीपर। हमारे टीचर बहोत ही अच्छे है वो हमारे साथ बहोत ही अच्छे तरह से नम्रतापूर्वक व्यव्हार करते है। वो हमें बहोत ही अच्छी तरह से नम्रतापूर्वक और रोचक तरीके से समजते हैं।         

                     

 विशेषता :

            में अपने स्कूल से बहुत प्यार करता हु।  मेरे स्कूल में केवल कक्षा ही नहीं बल्कि प्रेयर होल भी है और वो बहुत ही बड़ा है और ऑडिटोरियम भी काफी बड़ा और अच्छा है।  मेरे स्कूल का वातावरण बहोत ही शांत और उत्तम है ,यहाँ पर केवल सकारात्मक विचार ही मेरे मन में उत्पन होते है और मुझे इन विचारो से मेरे जीवन में आगे बढ़ने का प्रोत्साहन मिलता है  

         स्कूल का हर एक दिन मेरे अंदर एक नइ ऊर्जा का संचार करता है।  वही स्कूल में कही पठाई के अलावा सारी प्रवृतिया होती है जैसे की बच्चो का खेल कूद ,हरिफाई ,संगीत ऐसी काफी सारी रोचक प्रवृतिया होती है जो हमारे स्कूल की एक पहचान बन गई है। 

          हमारे स्कूल में हर एक  कक्षा को तीन सेक्शन में  बता गया है हमारे स्कूल में तीन मंजिल में करीबन 42 कमरे बने हुए है जो बहुत ही बड़े और अच्छे है। जिसमे कुछ कमरे कम्प्यूटर रूम ,फिजिक्स लेब, लायब्रेरी ,केमेस्ट्री लेब है और उनमे से कुछ कमरे प्रिन्सिपल रूम ,स्टाफ रूम ,स्टोर रूम  एडमिन डिपार्टमेंन और बाकि सारे कमरे में कक्षाए है, पंखा ,लाइट , ब्लेक बोर्ड ,फर्नीचर जैसी अनेक सुविधाए है इसके अलवा कुछ कमरों में AC भी लगी हुई है। 

           हमारे स्कूल में ये सबके अलावा  साफ सफाई का भी बहोत अच्छी तरह से ध्यान रखा जाता है। साफ सफाई के लिए एक  आया और तीन प्युन रखे गए है जो के बहार कि साफ सफाई का ध्यान रखते है  और वो लोग छोटे बच्चो  भी ख्याल रखते है।  यही नहीं मेरे स्कूल का लेब काफी अच्छा और बड़ा है, इस में कही सारी  किताबे उपलब्ध है।  


मेरे स्कूल का बागीचा : 

          मेरे स्कूल का बगीचा बहुत ही सुन्दर है इस में बहुत ही सुन्दर रंग बेरंगी फूल लगते है इन के अलावा हमारी स्कूल में स्वस्थ इत्यादि का ध्यान रखते हुए नीम के पेड़ भी लगाए है  जो स्वस्थ्य का ध्यान रखे है बल्कि शुद्ध हवा भी देते है।  मेरे स्कूल के बगीचे का ध्यान रख ने के लिए दो माली भी रखे हुए है जो बगीचे को सच्चे से असम्भालते है। मुझे मेरा स्कूल का बगीचा बहुत ही पसंद है। 




 मेरे स्कूल की कार्य प्रणाली और अनुशासन : 


        मेरे स्कूल का समय सुबह 7:00 से 12:30 तक का है हमें स्स्कूल  छोड़ ने के लिए एक बस की सुविधा दी गई है सुबह की प्राथना के दरमियान ही सछूल की शुरुआत  होती  है मेरा स्कूल बहोत ही अनुशाशन प्रिय है इस का पालन न करने वाले विध्यार्थीओ को दंड भुगतना  पड़ता है।  भले ही हमें हमारे जीवन का अनुशासन हमें आपने परिवार से मिलता है परंतू एक स्वस्थ भूमिका भी अनुशासनप्रिय में माहौल के रूप में ही निभ रहा हु।      


मेरे स्कूल के प्रति मेरा कर्तव्य :

          मेरे स्कूल के प्रति मेरे  बहोत सारे कर्तव्य है मेरा स्कूल मुझे अच्छे शिक्षा के साथ ही समाज का एक अच्छा नाकरीक  बनने में मदद करता है   तो इस के बदले में मेरा भी कर्तव्य बनता है की इन सबके बदले में अपने शिक्षक और शिक्षिकाओं का सम्मान करू और बहोत ही लगन से और महेनत से पठाई कईबेरु और उत्तीण  नंबरो से पास हु।   

          मेरा स्कूल मुझे बहोत सरे कर्तव्य निभाना सिखाती है        



 मेरे स्कूल में : 

          मेरे   में  हर सप्ताह योग की क्लास राखी जाती है जिसमे योग सिखाया जाता है और हमारे  स्वस्थ्य को कैसे   ठीक रखना हे य्वे बताया जाता हैं योग करने से हमारे तन मन में चुस्ती और स्फूर्ति बानी रहती है  

 जिससे हमारा पठाई मन लगा रहता है  और याद शक्ति बढ़ती है        

           हमारी  स्कूल के प्रधानध्यापक बहोत ही अच्छे और शांत स्वाभाव के है  वो हमें रोज   कुछ नया करने की सलाह देते है और रोज हमें प्राथन में  एक शिक्षापद कहानी सुनाकर  हमें शिक्षा  महत्व बताते है उन्होंने        जब से हमारे स्कूल का कार्यभार सायंभाला है तबसे हमारे स्कूल की प्रतिष्ठा बढ़ गई है       

            मेरे स्कूल के पीछे एक बहोत बड़ा ग्राउंड है जहा पर में और मेरे दोस्त खेलने जाते है यही हमारा प्राथना स्थल है जहा पर हम प्रातः काल प्राथना करने जाते है वहा पर चारो तरफ वृक्ष लगे हुए है और वहा पर छोटी छोटी घास भी लगी हुए है जिससे हमारे स्कूल  का वातावरण बहोत   ही सुंदर रहता है                         



मेरे स्कूल का परिणाम :

              मेरे स्कूल का परिणाम हर साल सत प्रतिशत अच्छा रहता है जिसके कारण  हमारी स्कूल शहेर की जनि मणि स्कूल बन गई है  

                         हमारे  स्कूल में उत्तीण नंबरो से पास होने  वाले बच्चो को इनाम दिया जाता है और और उन्हें थेर साडी बधाई दी जाती है 

                 \
ऐसे ही Hindi Essay के लिए Follow करे 

No comments

Powered by Blogger.